loading...

वायरल बुखार से बचने के घरेलु उपाय

loading...

वायरल का नाम सुनते ही सबसे पहले जो हमारे दिमाग में क्लिक करता है वह है वायरल बुखार। बता दें कि वायरल एक तरह का मौसमी बुखार होता है, जो अकसर मौसम में बदलाव होने की वजह से हो जाता है। वायरल फीवर हमारे इम्यून सिस्टम को कमजोर तो बनाता ही है साथ ही इसकी वजह से शरीर में इंफेक्शन भी बहुत तेजी से बढ़ता है। यही नहीं वायरल का फीवर अगर घर में किसी एक को हुआ है तो और भी घर में मौजूद लोगों को वायरल का वायरस अपना शिकार बनाने से नहीं चुकता है।

आज sehatgyan.com आपको बताने जा रहा है वायरल फीवर के लक्षण और इससे बचने के कुछ खास टिप्स :

प्रमुख लक्षण 
गले में दर्द, खांसी, सिर दर्द, थकान, जोड़ों में दर्द के साथ ही उल्टी और दस्त का होना इसे प्रमुख लक्षणों में से एक है।

आंखों का लाल होना और माथे का बहुत तेज गर्म हो जाना भी बुरे लक्षण हैं। बता दें कि बड़ों के साथ-साथ यह वायरल फीवर बच्चों में भी बड़ी तेज़ी से फैलता है।

वायरल फीवर से बचने के घरेलु उपचार यहां 

हल्दी और सौंठ का पाउडर
यह बहुत कम लोग जानते हैं कि अदरक में एंटी आक्सिडेंट गुण मौजूद होता है जो बुखार को ठीक करने में मदद करता है। एक चम्मच काली मिर्च, एक छोटी चम्मच हल्दी और एक चम्मच सौंठ यानी कि अदरक के पाउडर को एक कप पानी में लें और हल्की सी चीनी डालकर गर्म कर लें। जब यह पानी उबलने के बाद आधा रह जाए तो इसे ठंडा करके पिएं। इस टिप्स से आपको वायरल फीवर से आराम मिलेगा।

loading...

तुलसी का करें इस्तेमाल
यह तो हम सभी जानते हैं कि तुलसी में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जिससे हमारे शरीर के अंदर के वायरस खत्म होते हैं। यह हमारे बॉडी को अंदर से साफ करने में मदद करता है। एक चम्मच लौंग के चूर्ण और दस से पंद्रह तुलसी के ताजे पत्तों को एक लीटर पानी में डालकर इतना उबालते रहे जब तक यह सूखकर आधा न रह जाए। इसके बाद इसे छानें और ठंडा करके हर एक घंटे में पिएं। आप देखेंगे कि वायरल से जल्द ही आपको आराम मिलेगा।

धनिया की चाय
सेहत का धनी होता है धनिया इसलिए यह वायरल बुखार जैसे कई और रोगों को भी खत्म करता है। वायरल के बुखार को खत्म करने के लिए धनिया चाय बहुत ही असरदार दवाई का काम करती है।

मेथी का पानी
रसोईघर में रखी मेथी के दानों को एक कप में भरकर रात भर के लिए भिगों के छोड़ दें। सुबह के समय इसे छानकर हर एक घंटे में पिएं। इस टिप्स को फॉलो करें और देखें कितनी जल्दी आराम मिलेगा आपको।

नींबू और शहद
बता दें कि नींबू का रस और शहद भी वायरल फीवर के असर को कम करने में सक्षम है। आप शहद और नींबू का रस का सेवन भी कर सकते हैं।

Source: SehatGyan

loading...
Most Interesting, Must Click to Read:
Loading...
error: Content is protected !!