एलोवेरा (Aloe Vera): रखे आपकी सेहत का ख्याल,

alovera ke benefit.jpg
loading...

सदियों से एलोवेरा का इस्तेमाल एक औषधि की तरह किया जा रहा है। एलोवेरा में काफी मात्रा में विटामिन C, A, E, और फ़ॉलिक एसिड मौजूद होता है। जो हर तरह से हमारी बॉडी के लिए काफी स्वास्थ्यवर्धक होते हैं। अभी तक हमने एलोवेरा से होने वाले सुंदरता संबंधी फायदों के बारे में जाना, आइये अब हम इससे होने वाले स्वास्थ्य सम्बंधी फायदों की ओर नजर डालते हैं।

अपने शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ायें (Aloe Vera As Immunity Booster)

एलोवेरा  में पाये जाने वाले पॉलीसेकेराइड्स (polysaccharides), मैक्रोफेजेस (macrophages) या वाइट ब्लड सेल्स (white blood cells), जो कि हमारी बॉडी की बाहरी इन्फेक्शन से रक्षा करते हैं; के बढ़ने को बढ़ावा देते हैं। साथ ही इसमें पाये जाने वाले एंटीऑक्सीडैंट्स इसे एक अच्छी क्वालिटी का इम्युनिटी बूस्टर बनाते हैं। इसलिए इसका नियमित सेवन आपकी छोटे-मोटे संक्रमण, हल्का बुखार इत्यादि से रक्षा करता है।

डायबिटीज के रोगियों में ब्लड शुगर लेवल को कम करे (Lowers Blood Sugar Levels In Diabetics)

डायबिटीज के रोगियों के लिए तो एलोवेरा एक वरदान की तरह साबित हुआ है। ये इंसुलिन के बनने को कम करता है। एक स्टडी के अनुसार टाइप 2 डायबिटीज रोगियों पर एलोवेरा के काफी सकारात्मक परिणाम सामने आए। इसके साथ ही यह हाई ब्लडप्रेशर और हाई कोलेस्ट्रोल से लड़ने में प्राकृतिक रूप से मदद करता है। यदि आपको डायबिटीज है तो आप समान मात्रा में एलोवेरा जूस और करेले के जूस को मिलाकर कुछ दिनों तक सेवन करें और देखें कि किस तरह आपको डायबिटीज से पूरी तरह से मुक्ति मिल जाती है। इसके साथ ही एलोवेरा जूस में दोगुनी मात्रा में आंवले का रस मिलाकर इस्तेमाल करने से ब्लड शुगर लेवल भी कम हो जाता है। यह बात भी सामने आई है कि एलोवेरा कोलेस्ट्रोल को कम करने में भी सहायता करता है और इसके साथ ही ये ब्लड से ग्लूकोज़ लेवल को भी कम करता है।

पाचन संबंधी लाभ (Digestive Advantages)

एलोवेरा में मौजूद एमिनो एसिड्स, एंजाइम्स, विटामिंस और मिनरल्स की प्रचुरता के कारण यह पाचन में एक महत्पूर्ण भूमिका अदा करता है। एलोवेरा में मौजूद ये तत्व पाचन तंत्र में मौजूद ऐसे भोजन को साफ करने में भी मदद करते हैं, जो कि इसके कार्य में रुकावट पैदा कर रहे हैं। इसके साथ ही एलोवेरा ज्यूस का नियमित सेवन कब्ज़ और एसिडिटी से राहत दिलाता है।

बॉडी डिटॉक्सिफिकेशन (Body Detoxification)

हमारी लाइफस्टाइल, जंक फ़ूड, धूल-मिट्टी, स्मोकिंग और प्रदूषण हमारे शरीर पर गहरा प्रभाव डालते हैं, और जिसके कारण हमारे शरीर में विषैले तत्व भी जमा हो जाते हैं। एलोवेरा ज्यूस बॉडी में मौजूद टोक्सिंस को (toxins) को बाहर निकालने में मदद करता है। ये टोक्सिंस पेट में दर्द या फिर शरीर में पोषक तत्वों के अवशोषण की कमी जैसी समस्याओं के मुख्य कारण होते हैं।

इसके साथ ही एलोवेरा शरीर के लिए एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल एजेंट की तरह भी काम करता है। इसमें पोलीफेनॉल्स (polyphenols) नाम का पदार्थ पाया जाता है, जो कि एलोवेरा में मौजूद अन्य पदार्थों के साथ मिलकर एक एंटी-बैक्टीरियल की तरह काम करता है। इसमें पाए जाने वाले एंजाइम बॉडी के सर्क्युलेट्री सिस्टम को मजबूत बनाकर इन्फेक्शन्स से लड़ने वाली सेल्स को बढ़ाता है। जिस से शरीर में होने वाल इन्फेक्शन्स की समस्याओं से भी राहत मिलती है।

loading...

वजन कम करने में मददगार (Helpful In Weight Loss)

एलोवेरा में कई तरह के विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, एमिनो एसिड, सैलिसिलिक एसिड और भी जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो वजन घटाने में भी कई तरीकों से मददगार साबित हुए है। इसके लिए आप चाहें तो नींबू के रस में एलोवेरा ज्यूस मिलाकर पी सकते हैं या फिर मैथी की पत्तियों का रस और लहसुन के साथ एलोवेरा का ज्यूस मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं। एलोवेरा के पत्तों के सेवन से भी मोटापे को नियंत्रित किया जा सकता है। काफी पौष्टिक (Nutritious) एलोवेरा में भरपूर मात्रा में विटामिन B1, B2, B6, विटामिन C, विटामिन E, फोलिक एसिड, आयरन, कैल्शियम, जिंक, मैंगनीज, कॉपर, जरूरी एंजाइम, ग्लाइकोसाइड, और इसके साथ ही लगभग 200 से ज्यादा पोषक तत्व होते हैं, जो पूरे शरीर को पोषित करते हैं। इसके सेवन से आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी नहीं होगी।

सूजन कम करने में सहायक (Helpful In Reducing Inflammation)

चूँकि एलोवेरा में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, इसी कारण से एलोवेरा ज्यूस का सेवन सूजन को काफी हद तक कम कर देता है।

दांतों की कैविटी हटाए (Helpful In Removing Dental Cavity)

एलोवेरा जैल अपने एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण बिल्कुल एक टूथपेस्ट की ही तरह दांतों पर काफी असरदार साबित हुआ है। यह दांतों में कैविटी पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ता है और इसके साथ ही मसूड़ों में होने वाली सूजन से भी राहत दिलाता है। इसके साथ ही इसका एंटी-माइक्रोवाईल गुण दांतों को साफ और कीटाणु मुक्त रखने में मदद करता है। एलोवेरा जूस को माउथ फ्रेशनर की तरह भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है।

जोड़ों के दर्द में राहत दिलाये (Aloe Vera For Joint Pain)

ऐसी कई स्टडीज सामने आ चुकी हैं जो एलोवेरा में नेचुरली एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुणों के साथ साथ प्लांट स्टीरोल्स (plant sterols) होने का दावा करती हैं। ये प्लांट स्टीरोल्स ठीक उसी तरह असर करते हैं जिस तरह दर्द और सूजन के लिए ली जाने वाली स्टेरॉयड दवायें करती हैं। इसमें पाये जाने वाले ग्लूकोसेमाइन (glucosamine) और B-सिस्टरॉल (B-sisterole) आर्थराइटिस के कारण होने वाले दर्द और सूजन में काफी राहत पहुंचाते हैं। इसलिए अपने डेली रूटीन में एलोवेरा को शामिल कर आप इन परेशानियों से काफी हद तक राहत पा सकते हैं।

मुँह के छालों में आराम (Aloe Vera For Mouth Ulcers)

मुँह में छाले होने की स्थिति में थोड़ा सा ताज़ा एलोवेरा जेल लें और इसे अपने छालों पर हलके हाथों से दिन में 3 से 4 बार मलें। इससे न सिर्फ छाले ठीक होंगे बल्कि तुरंत दर्द में आराम भी मिलेगा। साथ ही अगर आपको बार बार मुँह में छाले होने की समस्या हो तो एलोवेरा का जूस नियमित रूप से पियें, आराम होगा।

पीलिया (Jaundice) का इलाज

पीलिया से निजात पाने के लिए तो एलोवेरा का ज्यूस एक रामबाण इलाज साबित हुआ है। यदि आप सुबह शाम एलोवेरा के ज्यूस का सेवन करते हैं तो आपको काफी राहत मिलेगी।

आइये जानते हैं एलोवेरा से होने वाले कुछ और फायदों के बारे में:

*नजले-खांसी पर असरदार।
*इसके जूस के सेवन से खून की कमी को दूर किया जा सकता है।
*फटी एडियों पर एलोवेरा लगाने से बहुत जल्दी आराम मिलता है।
*जोड़ों के दर्द में असरदार।
*खून में हीमोग्लोबिन की कमी को दूर करने में मददगार।
*एलोवेरा जूस बवासीर (piles) में होने वाली समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करता है।
*त्वचा संबंधी रोगों से निजात दिलाता है।
*शरीर में कहीं भी जलने या कटने पर एलोवेरा में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण घाव को जल्दी भरता है।

Most Interesting, Must Click to Read:
loading...
error: Content is protected !!