धनिया के औषधीय गुण

Coriander-seeds.001.jpg-2.001-1024x640.jpg
loading...

धनिया एक मसाले का नाम है जिसका प्रयोग हम अपनी रसोई में मसाले के रूप में करते हैं। जब हम इसका प्रयोग अपने खाने में करते हैं तो हमारा खाना और भी स्वादिष्ट बन जाता है। सूखे धनिये का इस्तेमाल हम केवल मसाले के रूप में ही नहीं बल्कि औषधीय रूप में भी करते हैं, जो हमारी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है। धनिये का सेवन करने से हम कई तरह की घातक बीमारियों से बचें रहते हैं। हरे धनिये में कई तरह के आयुर्वैदिक और औषधीय गुण पायें जाते हैं। इसका सेवन करके हम अपने वजन को कंट्रोल में कर सकते हैं, साथ में इससे किडनी के जहर को भी समाप्त किया जा सकता है।

धनिया के फायदे
स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है धनिया। इसका इस्तेमाल व्यंजनों को सजाने और उनमें अच्छी सुगंध के लिए भी किया जाता है। इससे हमें ओर भी फायदे होते हैं जो एस प्रकार से है…

चेहरा साफ़ रखें
धनिये का प्रयोग हम अपने चेहरे का कालापन, दाग और धब्बे को दूर करने के लिए करते हैं। इसके लिए 2 गिलास पानी में 2 चम्मच साबुत धनिया भिगो दें, फिर चार घंटे तक उसे ऐसे ही रहने दें, बाद में उसे छान कर अपने चेहरे पर लगायें। ऐसा करने से आप सुंदर दिखने लगते हैं।

घमोरियां होने पर
गर्मियों के दिनों में जब भी हम घमोरियों से परेशान होते हैं तो हमें धनिये के पानी से स्नान करना चाहिए। इससे आप की घमोरियां ठीक हो जाती है।

पसीने की दुर्गन्ध से छुटकारा
पचास ग्राम धनिया में स्वादानुसार पिसा हुआ काला नमक मिलाकर रख लें। खाना खाने के बाद इसका सेवन पानी के साथ करें। ऐसा करने से पसीने की बदबू नहीं आती है। और साथ में आपकी खूबसूरती बढ़ती है और आप स्वस्थ्य भी रहते हो।

loading...

स्वप्नदोष से राहत
सुखा धनिया पीसकर छान लें, फिर इसमें बराबर मात्रा में चीनी डालें। इसका सेवन आप सुबह भूखे पेट पानी के साथ करें। ऐसा करने से आप को स्वप्नदोष से राहत मिलती है और अगर आप को कब्ज हो तो आप इसका सेवन रात को भी कर सकते हो।

चोट के दर्द को दूर करें
अगर आप को चोट लगा हो या चोट के कारण नीला धब्बा बन गया हो या सुजन हो तो धनिये और हल्दी दोनों को पीस को समान मात्रा में मिलाएं, फिर इसमें तेल डालकर इसको अच्छे से भुने। फिर इसे चोट वाली जगह पर लगायें। ऐसा करने से आप को राहत मिलती है।

थकान को दूर करे
जब हम काम करते हुए बहुत थक जाते हैं या सैर करने के बाद हमें बहुत ही थकावट होती है तो ऐसे में धनिये के बीस दाने लेकर चबाने चाहिए, हमारी सारी थकावट दूर हो जाती है।

मिर्गी के लिए
जिनको मिर्गी की शिकायत है उन्हें एक किलो पानी में 50 ग्राम धनिया उबालना चाहिए, जब पानी का तीसरा हिस्सा रह जाता है तो उसे छानकर उसमें स्वादानुसार नमक मिला लें। फिर उसे दिन में चार बार पियें। ऐसा करने से आप बहुत ही जल्द ठीक हो जाओगे।

मसूड़ों के लिए
धनिये का पानी उबालकर उस पानी से कुरला करने से मसुडें मजबूत बनते हैं, साथ में मसूड़ों से रक्त निकलना बंद हो जाता है।

सिरदर्द से राहत
चार चम्मच धनिया में दो चम्मच मिश्री मिलाकर एक गिलास पानी में उबाले। जब पानी आधा रह जाए, तो उसे छान कर पियें। इससे आप को सर्दी जुकाम से होने वाली सिरदर्द ठीक हो जाती है।

गले के दर्द से राहत
धनिये का प्रयोग हम गले में होने वाले दर्द के लिए भी करते हैं। इसके लिए तीन घंटे के अंदर हमें दो चम्मच सुखा धनिया चबाकर उसका रस चूसना चाहिए। इससे आपको गले में होने वाले रोगों से राहत मिलती है।

Source: SehatGyan

Most Interesting, Must Click to Read:
loading...
error: Content is protected !!