चावल मांड के फायदे

mand
loading...

चावल हमारे भारत का बहुत ही महत्वपूर्ण अनाज है, यह आधे से ज़्यादा दुनिया का रोज़ का खाना है। रोज़ की आधी कैलोरीज प्रदान करता है क्योंकि इसमें भारी मात्रा में स्टार्च होता है। स्टार्च ही है जिसके कारण चावलों को सफ़ेद रंग मिलता है। चावलों में भरपूर प्रोटीन, फाइबर और विटामिन होते हैं। हम सब लोगों को चावल की मांड के फायदे नहीं पता, आप इसे बिना जाने इसे फेंक देते हैं।

चावल की मांड, चावल का पानी होता है जो बच जाता है जब आप चावलों को धोते हैं। इसे चावलों को उबाल कर भी प्राप्त किया जा सकता है। जब हम चावलों को पानी में उबालते हैं, तब उच्च तापमान की वजह से चावल अपना स्टार्च पानी में छोड़ता है जिसे हम अंग्रेजी में स्टार्च सस्पेंशन कहते हैं। परन्तु आप जो बात नहीं जानते हैं वह है चावल की मांड के फायदे और इसे कई वर्षों से इस्तेमाल किया जा रहा है।

तो चावल की मांड को कैसे बनाया जाये ?
चावल की मांड बनाना बहुत ही सरल कार्य है। चावल को पानी से धो लीजिये ताकि उसमें से मिट्टी और अशुद्धियाँ निकल जाएं। उसके बाद 1/2 कप कच्चे चावल एक बाउल में रखें और ऊपर से पानी से ढक दें। फिर चावल का पानी सूखने दीजिये, फिर एक घंटे के बाद चावल को मलिये ताकि उसमें से विटामिन और मिनरल पानी में मिल जाएं और पानी का रंग सफेद हो जाये। अब इस पानी को एक साफ़ बाउल में निकाल लीजिये। आपका चावल का मांड तैयार है। आईये अब देखते हैं इसके फायदे…….

त्वचा के लिए
चावल के मांड में खूबसूरती के लिए मिनरल और विटामिन होते हैं। चावल की खेती करने वाली जापान, चीन और एशिया की महिलाएं चावल के पानी से ही नहाती हैं।

चमकदार चेहरे के लिए

अपने चेहरे को पानी से धोने के बाद रुई का एक गोला बना कर उसे चावल की मांड में दुबा कर और अपने पूरे चेहरे पर लगायें। चावल में इनोस्टिल होता है जो हमारे शरीर के सेल को बढ़ने में मदद करता है, हमें जवान रखता है और खून का बहाव तेज़ करता है जिससे हमारा चेहरा खिल उठता है।

मुलायम त्वचा के लिए
यह आपकी त्वचा को बेहद मुलायम कर देता है। बस अपना चेहरा इससे धो लीजिये।

loading...

त्वचा का रंग
चावल की मांड आपकी त्वचा का रंग सही करता है। इसके लिए भी आपको रुई को चावल की मांड में डुबा कर फिर अपने चेहरे पर लगाना होगा। .

मुंहासे का इलाज
मुंहासों को आप बहुत आसानी से चावल की मांड से सही कर सकते हैं। रुई को मांड में डुबा कर फिर अपने मुंहासों पर लगाइये इससे आपके मुंहासों का लाल रंग धीरे-धीरे कम हो जायेगा।

खुजली से राहत
स्टार्च जो चावल की मांड में होता है वह खुजली से राहत देता है। बस ठंडा चावल का पानी लीजिये और जहाँ खुजली हो वहाँ इसे लगाइये, इस तरह कुछ दिनों तक यह खुजली वाले हिस्से पर लगाने से खुजली ठीक हो जाती है।

जलन और जले हुए से रहत
चावल की मांड ठंडक पहुचाने और जले हुए को सही करने में इस्तेमाल की जाती है। इससे आपकी त्वचा जल्दी ठीक होगी और उसे और ज़्यादा खराब होने से बचाएगा।

बालों के लिए
आपने चीन के हुआंगलुओ की महिलाओं के बारे में सुना होगा। इनके बाल आमतौर पर 6 फ़ीट तक बढ़ जाते हैं उनके इन लंबे बाल का राज़ भी चावल की मांड ही है। गिनेस वर्ल्ड बुक ऑफ़ रिकार्ड्स में भी इनका नाम है।चावल की मांड इनके बालों को सुलझने और लंबे करने में मदद करता है।

बालों का बचाव
रिसर्च करने से पता चला है कि चावल की मांड में फ्रिक्शन को कम करने और बालों का लचीलापन बढ़ाने की क्षमता है। चावल के पानी में इनोसिटोल होता है जो एक तरह का कार्बोहायड्रेट है जो हमारे बालों को बचाता है। स्पेशल टेक्नोलॉजी की मदद से पता चला है कि बाल धोने के बाद भी इनोसिटोल हमारे बालों में रहता है और हमारे बालों को सुंदर बनाता है।

बाल बने मज़बूत और मुलायम
चावल की मांड में बहुत ज़्यादा एमिनो एसिड होता है। यह एमिनो एसिड हमारे बालों की जड़ों को मज़बूत करता है, उन्हें घने बनाता है,चमकदार बनाता है और मुलायम बनाता है।

बालों का मास्क
चावल की मांड को बालों के ऊपर लगाने वाले मास्क की तरह भी इस्तेमाल कर सकते हैं। जिनसे आपके बाल लंबे और रेशमी हो जाएंगे। अपने सर पर मांड को 20 मिनट के लिए रखिये और फिर इसे आम पानी से साफ़ कर लीजिए अपने कंडीशनर या शैम्पू से।

Source: SehatGyan

Most Interesting, Must Click to Read:
loading...
error: Content is protected !!